adddd

ईद लेकर उत्तेर प्रदेश सरकार एडवाइजरी जारी ,पढ़िए कुछ बड़ी खबरें

 यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, का बड़ा फैसला 

  लखनऊ: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए। आने वाली ईद पर मस्जिदों में नमाज  पढ़ने लिए रोक लगा दी है।दरअसल योगी सरकार ने यह निर्णय केवल लोगो की सुरक्षा को मध्यनजर रखते हुए लिया गया है ।और लोगों को नियम के मुताबिक घर में नमाज पढ़ने के लिए आदेश जारी किया गया है। ऐसा सुरक्षा को लेकर किया गया है क्योंकि कोरोना वायरस का कहर उत्तर प्रदेश में लगातार जारी है। कोरोना वायरस ने अब यूपी में भी तेजी से रफ्तार पकड़ रखी है। और यूपी में भी अब प्रतिदिन हजारों की संख्या में कोरोना के पॉजिटिव मरीज आ रहे हैं।



Yogi Adityanath
 Source: India Today | IndiaSpend Team | Flickr
 इसे भी पढ़े,कोरोना वेक्सीन को लेकर आयी बड़ी ख़वर,जाने अगस्त में कब लांच होगी वेक्सीन click here  .......

 ऐसे में ,  योगी सरकार और केंद्र सरकार ने पहले ही कावड़ यात्रा पर पूर्ण रूप से पाबंदी लगा रखी है। योगी आदित्यनाथ ने कावड़ यात्रा पर शिव भक्तों के लिए जल लाने के लिए भी पूर्ण रूप से पाबंदी लगा रखी है। ऐसे में नमाज के लिए पाबंदी लगाना कोई नई बात नहीं है ऐसा सिर्फ लोगों की सेहत की सुरक्षा के लिए किया जा रहा है। क्योंकि कोरोना वायरस भीड़ - भाड़  होने की स्थिति में अधिक फैल रहा है ।ऐसे में सरकारे उचित कदम उठा रही हैं।उधर मध्यप्रदेश में भी आज से 10 दिन का संपूर्ण लोक डाउन लगा दिया गया है। मध्यप्रदेश में 10 दिन के संपूर्ण लोकडाउन में केवल स्वास्थ्य सेवाएं जारी रहेंगी। और अन्य सभी प्रकार की सेवाएं पूर्ण रूप से बंद रहेंगी।


 आत्महत्या के प्रयास में आग से झुलसी मां बेटी की अस्पताल में मौत

 लखनऊ: विधानसभा स्थित एक युवती ने अपनी मां के साथ आत्महत्या की कोशिश की थी।लेकिन उसको बचा लिया गया था। आज मां बेटी दोनों की इलाज के दौरान मौत हो गई है। दोनों महिलाओं को कांग्रेस पार्टी और 
एआईएमआईएम के नेताओ पर  आत्महत्या  के लिए उकसानेका आरोप है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच पड़ताल भी कर रही है।
 पुलिस ने एक बयान दिया था ।जिसमें कांग्रेस पार्टी के नेता और आई एम एम के नेता पर पुलिस ने आरोप लगाया था, कि इन दोनों ने इन महिलाओं को आत्महत्या के लिए उकसाया था। और यह राजनीति के लिए किया गया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 भगवान राम के विशाल ,मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या में तैयारियां तेज

अयोध्या व्यूरो:   भगवान रामचंद्र जी के मंदिर निर्माण की प्रक्रिया बहुत ही तेजी से चल रही है। और अयोध्या में भगवान रामचंद्र के मंदिर के लिए उचित प्रावधान किए जा रहे हैं। फिलहाल तैयारियां बहुत ही तेजी से चल रही है पूरे भारतवर्ष से पूजा पाठ के लिए प्रमुख साधु-संतों को बुलाया जा रहा है इसकी तैयारी हिंदू विश्व परिषद को दी गई है हिंदू विश्व परिषद ही  वाराणसी से जल लेकर आएंगे।


Ram Mandir
source :-File: Ram Mandir Construction.jpg - Wikipedia



हिंदू विश्व परिषद ही देश भर में प्रमुख साधु-संतों के लिए लगातार न्योता भेज रहा है और सभी प्रकार की तैयारी है वाराणसी में भी की जा रही है काशी में भगवान रामचंद्र के मंदिर निर्माण को लेकर सभी आवश्यक वस्तुओं का को तैयार किया जा रहा है उधर अयोध्या में अभी भारत के माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के आने की तैयारियां भी बहुत तेज चल रही है आपको बता दें कि इस समय रोज-रोज नेता लोग अयोध्या पहुंचकर तैयारियों का जायजा ले रहे हैं फिलहाल अयोध्या के महंत ने बताया है कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी 40 किलो की चांदी की ईट रखकर मंदिर निर्माण प्रक्रिया की शुरुआत करेंगे। अयोध्या में सरयू के घाट को भी सजाया जा रहा है अयोध्या से सूचना के अनुसार राम मंदिर की पूजा की शुरूआत भगवान राम के गर्भ ग्रह से होगी भगवान रामचंद्र के गर्भ गृह में मंदिर के शिलान्यास की पूजा की जाएगी अयोध्या में भगवान रामचंद्र के मंदिर में देश भर से लगभग ढाई सौ लोगों की लिस्ट बनाई गई है इस लिस्ट में देश भर से राजस्व लोग भगवान राम के मंदिर निर्माण में शामिल होंगे आपको बता दें कि कोरोना के कारण सोशल डिस्टेंसिंग काफी ख्याल रखने के लिए माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने भी पहले ही बोल दिया है कि सभी कार्यक्रम पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य होगा ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने कई विशेष कार्य भी करने का सौभाग्य अपने मन में रखा होगा जिन्हें वह मंदिर निर्माण प्रक्रिया के दौरान भगवान से आशीर्वाद लेंगे।

 अयोध्या में बनेगी भगवान रामचंद्र की प्रतिमा

 अयोध्या में भगवान रामचंद्र के मंदिर के अलावा योगी सरकार ने पहले ही 251 मीटर की भव्य मूर्ति  स्थापित करने का निर्णय लिया है यह मूर्ति दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति होगी। भगवान रामचंद्र की इस मूर्ति के लिए योगी सरकार ने पहले ही बजट भी पास कर दिया है, फिलहाल मूर्ति को बनाने के लिए नक्शा पास हो चुका है और कई कंपनियों को बेंडर भी दिया जा चुका है अयोध्या में तैयारियां बहुत ही तेजी से चल रही है।

अयोध्या में मंदिर के अलावा यह होगा निर्माण
भगवान राम की नगरी अयोध्या में सब कुछ पूरी तरह से बदलने वाला है सरकार ने निर्णय लिया है कि अयोध्या में जितने भी मंदिर है सभी को पुणे निर्माण किया जाएगा और अयोध्या में इसके अलावा एक रेलवे स्टेशन भी बनेगा फिलहाल रेलवे स्टेशन तो है लेकिन उसकी क्षमता इतनी नहीं है आने वाला रेलवे स्टेशन के लिए बजट भी पास हो चुका है यह रेलवे स्टेशन बहुत ज्यादा भव्य होने वाला है रेलवे स्टेशन के बराबर में ही एक पार्क भी बनाया जाएगा इसके अलावा अयोध्या में एयरपोर्ट के लिए भी पहले ही मंजूरी मिल चुकी है

 एयरपोर्ट के बनने की प्रक्रिया भी बहुत तेजी से चल रही है और इसके अलावा अयोध्या में एक बस स्टेशन बन रहा है जो इंटरनेशनल लेवल का होगा फिलहाल बस स्टेशन का कार्य प्रगति पर है। बस स्टेशन लगभग 70 परसेंट बनकर तैयार हो चुका है। इसके अलावा भगवान की नगरी अयोध्या में संकरी गलियों को चौड़ा किया जाएगा और पुणे निर्मित किया जाएगा। आने वाले कुछ ही वर्षों में अयोध्या पूरी तरह से भगवान रामचंद्र के रंग में रंग जाएगी चारों दिशाएं में भगवान राम का नाम होगा।ओर हर तरफ भगवान राम की गूंज सुनाई देगी। भगवान रामचंद्र की मंदिर बनने में आजादी से अब तक सरकारें आई और चली गई ,मंदिर का केश कोर्ट में लटका रहा , तब जाकर 2014 में मोदी सरकार पाई और मंदिर निर्माण के लिए मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में लगातार सुनवाई  और अंततः मंदिर बनने पर मुहर लगी।


 un में मोदी जी का ऐतिहासिक भाषण  क्लिक करें 

No comments